निर्देशक पर 6 गोलियां चलाने वाला पैरोल से हुआ था फरार, तीन महीने बाद पुलिस ने पकड़ा; हत्या के मामले में काट रहा है उम्रकैद की सजा

बॉलीवुड निर्देशक राकेश रोशन पर वर्ष 2000 में हुए हमले में कथित रूप से शामिल एक शातिर बदमाश एवं शार्प शूटर को पैरोल की अवधि पूरी होने के बाद भी जेल में नहीं लौटने के करीब 3 महीने बाद महाराष्ट्र के ठाणे जिले में गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बताया कि रोशन को जनवरी 2000 में मुंबई में उनके सांता क्रूज कार्यालय के बाहर गोली मारी गई थी। हमलावरों ने छह गोलियां चलाई थीं, जिनमें से दो गोलियां रोशन को लगी थीं।

आरोपी पर हत्या के 11 मामले दर्ज थे
केंद्रीय अपराध इकाई के निरीक्षक अनिल होनराव ने शनिवार को बताया कि सुनील वी गायकवाड़ (52) को शुक्रवार रात कलवा के पारसिक सर्किल इलाके में पकड़ा गया। उन्होंने कहा, "हमें जानकारी मिली थी कि गायकवाड़ पारसिक सर्किल इलाके में आ रहा है। हमने जाल बिछाया और उसे पकड़ लिया।'' उन्होंने कहा, "आरोपी के खिलाफ हत्या के 11 मामले और हत्या की कोशिश के सात मामले दर्ज हैं। इनमें से एक मामला 2000 में बॉलीवुड निर्देशक राकेश रोशन की हत्या की कोशिश का है।''

आजीवन कारावास की मिली थी सजा
अनिल होनराव ने कहा, "गायकवाड़ को हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा मिली थी और वह नासिक केंद्रीय कारागार में बंद था। वह 28 दिन के पैरोल पर इस साल 26 जून को बाहर आया था।'' उन्होंने कहा, "पैरोल अवधि पूरी होने के बाद उसे जेल लौटना था। वह लौटा नहीं। उसे कल रात गिरफ्तार किया गया। तब तक वह फरार था।''

अली बंदेश और सुभाष सिंह ठाकुर का गुर्गा है गायकवाड़
गायकवाड़ 1999 और 2000 में काफी सक्रिय था और कई अपराधों में शामिल था। वह अली बंदेश और सुभाष सिंह ठाकुर के बदमाश गिरोहों में शामिल था। इसी अवधि में वह नासिक में हुई एक डकैती में भी शामिल था, जहां उसने पुलिसकर्मियों पर गोलीबारी की थी। होनराव ने कहा,"गायकवाड़ को पंत नगर पुलिस को सौंपा जाएगा, जहां उसके फरार होने का मामला दर्ज किया गया है।''



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
बॉलीवुड निर्देशक राकेश रोशन पर वर्ष 2000 में हुए हमले में आरोपी ने उनपर 6 गोलियां चलाई थी, जिसमें से उन्हें दो गोलियां लगी थी।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/30UtdCW
https://ift.tt/34LmGeT

Comments